मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के लिए आवेदन एवं सुधार करने की तारीख 15 मई तक बढ़ी, अभ्यार्थी जल्द करें आवेदन

पटना -। मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत 2019 में इंटर पास छात्राओं को 10000 /- रूपए पाने के लिए आवेदन करना था । इन्होंने आवेदन किया लेकिन , शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर सही डाटा अपलोड नहीं करने से वर्ष 2019 में इंटर पास उत्तर बिहार की सात हजार छात्राएं 10-10 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि से वंचित हैं।

छात्राओं ने मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत ई-कल्याण वेबसाइट पर आवेदन किया ही नहीं, किया भी तो उनमें कमियां हैं। उन्हें एक बार फिर सुधार या आवेदन करने का मौका मिला है । आवेदन या सुुुधार अंतिम तिथि के अंदर कर लें ।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना

शिक्षा विभाग की ओर से 15 मई तक आखिरी समय दिया गया है , कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर जारी लॉकडाउन के कारण आप अपने मोबाइल , लैपटॉप आदि से आवेदन / सुधार करने को कहा गया है। पोर्टल पर लॉगिन करने के लिए लाभुक के पास इंटरमीडिएट की पंजीयन संख्या के साथ जन्मतिथि अथवा इंटर परीक्षा 2019 के कुल प्राप्तांक ।

शिक्षा विभाग आदेश

माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरिवर दयाल सिंह ने जिला शिक्षा पदाधिकारी बीरेंद्र नारायण व जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (योजना-लेखा) कृष्ण मोहन ठाकुर को पत्र भेजा है। कहा गया है कि इंटर पास छात्राओं के ऑनलाइन आवेदन त्रुटिपूर्ण हैं।

मुख्यमंत्री बालिका इंटरमीडिएट प्रोत्साहन योजना के तहत बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित परीक्षा में उत्तीर्ण सभी कोटि की अविवाहित छात्राओं को दस हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दी जानी है।

आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक को इंटरमीडिएट की पंजीयन संख्या
  • जन्मतिथि / जन्म प्रमाण पत्र
  • इंटर परीक्षा 2019 के कुल प्राप्तांक की दस्तावेज

आवेदन करते समय पूछे गए जानकारी

छात्राओं को ई-कल्याण की वेबसाइट पर ऑनलाइन जानकारी देनी है। इसमें छात्रा को निम्नलिखित जानकारी देनी है, जो नीचे दी गई है :-

  • छात्रा का नाम
  • विद्यालय का नाम
  • बोर्ड का नाम
  • रोल कोड, रोल नंबर
  • बैंक का नाम, बैंक की खाता संख्या, आइएफएससी कोड,
  • आधार नंबर
  • छात्रा या अभिभावक का मोबाइल नंबर
  • अविवाहित होनी चाहिए

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत इंटर पास छात्राओं के आवेदन त्रुटिपूर्ण हैं। इनमें ई-कल्याण की वेबसाइट पर सुधार करने का निर्देश आया है। जिन स्कूलों और कॉलेजों की छात्राओं ने आवेदन नहीं दिए हैं, उन्हें स्कूल के माध्यम से सूचित कराया जा रहा , ताकि एक भी छात्रा योजना से वंचित न रहे ।

आज का बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published.